उत्तर के दोष धन हानि व् तनाव के कारण

रसोई के लिए कहा गया की यह दक्षिण पूर्व, दक्षिण या पूर्व या उतर पश्चिम में बनाना ही उतम हैं. परन्तु क्योंकि सीढ़ी या रसोई में से एक को ही अभी वह दक्षिण की ओर कर सकते थे तो उनको रसोई के अन्दर गैस को दक्षिण पूर्व, पूर्व मुखी तथा उतर में वाशिंग एरिया बनाने की सलाह दी गई.

वास्तु